चूहे की कारस्तानी ……

चूहे की कारस्तानी ……

मेरे कमरे में चूहा आतादरवाज़ा बन्द पर नीचे से आतादेखो कितना मोटा पर पेट पिचका के घुस ही जाताउसको कितना भगाऊँ परघूम फिर के यंही है आताक्या करूँ में इसके खाति... Read More

बचपन (Childhood)

बचपन (Childhood)

बचपन, कितना प्यारा था वो बचपन जहां ना कोई फ़िक्र थी और न कोई गम बिखरी हुई थी खुशियां चारों ओर मन में थी मुसकान दिलों में उमंग काश कोई लौटा दे वो बचपन ।।   र... Read More

विश्वनायक

विश्वनायक

पर्यावरण की बड़ी समस्या, नित्य ही बढ़ती जाती है। स्वच्छ देश हो, हरियाली हो, सबको याद दिलाती है।।   शिक्षा के सपनों को मिलकर हमको पूरा करना है। अंधकार के कूओ... Read More

भारत देश

भारत देश

ये देश हमारा प्यारा है, दुनिया में सबसे न्यारा है।   बंधु- बांधवों के भावों का होता ये सम्मान कहाँ? दुनिया भर के देश घूम लो ऐसा स्वाभिमान कहाँ?   नदियों की... Read More

ओस की बूँद

ओस की बूँद

ओस की बूँद हूँ मैं न जाने क्या लिखा है भाग्य में निकल पड़ी हूँ चलने बस जाना है एक सीप में बनना चाहती हूँ एक मोती मोती, जिसे हर कोई चाहे मन भाऊँ सबका मैं किस... Read More

आवाज़

आवाज़

कैसी आवाज़ है ये…. कुछ दोस्त हैं चाय की चुस्कियां लेते हुए दूर हैं सब अपने घर से बनने आये हैं कुछ यहां कैसी आवाज़ है येकुछ लोग हैं इधर उधर गुज़र रहे न म... Read More

Register or Login to start writing for Writm and connect with fellow students or Login with email ... Read More

Register or Login to start writing for Writm and connect with fellow students ... Read More